WHAT TO DO AFTER 12th

Table of Contents

Career Tips after 12th : इस समय अधिकांश बच्चों के मन में यह प्रश्न 24 घंटे गूँज रहा होगा कि इंटरमीडिएट (Intermediate) तो हो गया अब आगे क्या करें ?। मार्च का महीना आ चुका है। सभी बच्चों की परीक्षाएं (Examinations)चल रही हैं जो मार्च के आखिरी सप्ताह तक या अप्रैल के प्रथम सप्ताह तक समाप्त हो जाएँगी। उसके बाद हर बच्चे की यह भागदौड़ शुरू होगी की अब क्या करें ?  इंटरमीडिएट  (Intermediate) किसी भी व्यक्ति के जीवन का वह पड़ाव होता है जब वह एक नयी शुरआत करता है।  इंटरमीडिएट (Intermediate) ही वह समय है जब हर बच्चे के मन में अपना भविष्य (Future) आकार लेने लगता है। इस लेख में हम यह जानने की कोशिश करेंगे की आखिर  हमको 12th के बाद कौन सा कोर्स (Course)करना चाहिए।

Career Tips after Intermediate

इस स्थिति में वह बड़ी असमंजस की स्थिति में होता है कि उसके भविष्य के लिए क्या सही है क्या नहीं ? वह अपने परिवार में बड़ों से और अपने रिश्तेदारों से सलाह लेने लगता है। ऐसे में हर व्यक्ति उसे अपने हिसाब से सलाह देता है । बच्चा बहुत सारी सलाह के बीच में यह निर्धारित ही नहीं कर पाता है कि किस कोर्स को किया जाये।

What to do after 12th

इस समय उचित फैसला करना बहुत ही महत्वपूर्ण होता है। क्योंकि जिस प्रकार एक बार कमान से निकला तीर वापस नहीं आ सकता।  उसी प्रकार हमारा एक गलत फैसला हमारे करियर को गलत दिशा में ले जा सकता है। यह समय बहुत सोच समझकर निर्णय लेने का होता है।

कभी-कभी माँ बाप भी अपनी इच्छा बच्चों पर थोपते हैं। माँ-बाप यह नहीं सोचते कि उनके बच्चे का कौन सा क्षेत्र मजबूत है और कौन सा नहीं एवं उनके बच्चे की रूचि किस क्षेत्र में है और किस क्षेत्र में नहीं। यह जाने बिना बच्चे पर अपनी पसंद का कोर्स थोप देते हैं। जिससे बच्चा अपने जीवन में कामयाब नहीं हो पाता।

How to Select Course?

कैसे करें कोर्स का चुनाव ? 

एक अच्छे करियर के लिए हमको एक अच्छे विकल्प को चुनना बहुत आवश्यक है। एक विद्यार्थी के लिए यह आवश्यक है कि वह अपना मजबूत पक्ष जानें। किस क्षेत्र में उसकी रूचि अधिक है। ऐसा कौन सा विषय हैं जिसे पढ़ने में उसे आतंरिक रूप से ख़ुशी मिलती हो। क्योंकि जिस विषय में उसकी रूचि ही नहीं होगी तो उस विषय में वह कभी भी अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सकता। किसी को देखकर या किसी की बातों में आकर करियर का चुनाव न करें। यह आवश्यक नहीं  है की जिस विषय में किसी और ने अपना करियर बनाया हो उसी में हर विद्यार्थी सफल हो।

ऐसा नहीं है की किसी विषय में अधिक अवसर हैं या किसी विषय में कम। यदि कोई विद्यार्थी अपने विषय में मजबूत हैं तो उसे उसमें ही करियर बनाना चाहिए। और वह विद्यार्थी उस विषय में सफल अवश्य होगा। हर विषय में संभावनाएं असीम हैं बस जरुरत है सही समय पर सही निर्णय लेने की।

Career Tips after 12th in Hindi

Following are some of the major career opportunities for a student after 12th:

12वीं के बाद किसी विद्यार्थी के लिए कुछ प्रमुख करियर अवसर निम्नलिखित हैं:

शिक्षा के क्षेत्र में  (In the field of Education):

विद्यार्थी यदि शिक्षा के क्षेत्र में रूचि रखते हैं तो B.A., B.Sc., B.Com. करने के बाद B.Ed., D.El.Ed., B.P.Ed., आदि करने के उपरांत सरकार द्वारा निर्धारित परीक्षाओं को पास करने के बाद शिक्षक बन सकते हैं। कुछ केंद्रीय संगठन जैसे की केंद्रीय विद्यालय, नवोदय विद्यालय आदि के साथ साथ विभिन्न राज्यों के सरकारी शिक्षकों के पद पर चयनित हो सकते हैं। इसके साथ-साथ TGT (Trained Graduate Teacher), PGT (Post Graduate Teacher) बनने का विकल्प भी विद्यार्थियों के लिए उपलब्ध होता है।

मैनेजमेंट के क्षेत्र में (In the field of Management):

वर्तमान क्षेत्र में प्रबंधन के कोर्स बहुत प्रचलित हैं। 12वीं के बाद BBA करने के बाद MBA करके विद्यार्थी विभिन्न निजी कंपनियों में विभिन्न पदों पर कार्यरत हो सकते हैं। MBA विभिन्न शाखाओं में उपलब्ध है जैसे कि- Human Resource Management, Marketing, Finance, Information Technology, International Business, Operation Management आदि। MBA के उपरांत विभिन्न सरकारी नौकरियों में में भी MBA के आधार पर आवेदन कर सकते हैं।

Career Tips after 12th in hindi

इंजीनियरिंग के क्षेत्र में(In the Field of Engineering):

विज्ञान और तकनीक के क्षेत्र में अपना भविष्य तलाश रहे छात्रों के लिए B.Tech. (Bachelor of Technology) आज के समय का सबसे पसंदीदा कोर्स है। B.Tech. (Bachelor of Technology) विभिन्न शाखाओं के साथ विद्यार्थियों के लिए उपलब्ध है। जैसे- Civil Engineering, Mechanical Engineering, Electronics & Communication Engineering, Chemical Engineering, Artificial Intelligence, Data Science, Information Technology, Electrical Engineering, Aeronautical Engineering, Automation and Robotics Engineering आदि। विद्यार्थी B.Tech. के बाद M.Tech. कोर्स करके उपरोक्त क्षेत्रों में अपना करियर बना सकते हैं। विद्यार्थी इन क्षेत्रों में Ph.D. भी कर सकते हैं। यह कोर्स निजी क्षेत्र के साथ साथ सरकारी नौकरी के लिए भी करियर के दरवाजे खोलते हैं। भारतीय अभियांत्रिकी सेवाओं (Indian Engineering Services) में चयनित होने का अवसर भी विद्यार्थियों के लिए उपलब्ध है।

Important Career Tips after 12th

मेडिकल के क्षेत्र में (In the field of Medical):

जो विद्यार्थी मेडिकल की दुनिया में अपना करियर बनाना चाहते हैं । वह BDS, MBBS, B.Sc. Nursing, BAMS आदि कोर्स करके अपना भविष्य बना सकते हैं। इन कोर्स को करके निजी क्षेत्र के साथ सरकारी नौकरियों में भी पर्याप्त अवसर मौजूद हैं।

होटल मैनेजमेंट के क्षेत्र में (In the field of Hotel Management):

होटल मैनेजमेंट के क्षेत्र में करियर की चाह रखने वाले विद्यार्थियों के लिए DHM (Diploma in Hotel Management), BHM (Bachelor of Hotel Management), BHMCT (Bachelor of Hotel Management and Catering Technology), B.Sc. Hotel Management आदि प्रमुख हैं। इस कोर्स के माध्यम से देश-विदेश में होटल मैनेजमेंट में करियर की काफी अच्छी संभावनाएं मौजूद हैं।

पर्यटन के क्षेत्र में (In the field of Tourism):

विद्यार्थी पर्यटन (Tourism) के क्षेत्र में भी अपना करियर बना सकते  हैं। टूरिज्म (Tourism) के विभिन कोर्स जैसे की- B.A. in Travel in Tourism Management, B.A. in Hospitality, Travel & Tourism Management, B.Sc. in Travel in Tourism Management, B.A. Tourism Studies, B.Com. Travel & Tourism Management आदि प्रमुख हैं। पर्यटन उद्द्योग (Tourism Industry) वर्तमान समय में रोजगार सृजन (employment generation) का एक प्रमुख उद्योग (Industry) है।

फैशन डिजाइनिंग के क्षेत्र में (In the field of Fashion Designing):

फैशन डिजाइनिंग की चाह रखने वाले युवाओं के लिए BA Fashion Design, Post Graduate Diploma in Fashion Design, Diploma in Fashion Technology, Master of Business Administration in Fashion Technology जैसे कोर्स उपलब्ध हैं।

अभिनय के क्षेत्र में (In the field of Acting):

अभिनय के क्षेत्र में रुचि रखने वाले विद्यार्थियों के लिए भी 12वीं  के बाद एक्टिंग के कोर्स जैसे कि BA Hons in Drama, BTA (Bachelor of Theater Arts), MA (Theater) उपलब्ध हैं।

Career Tips after 12th Hindi

रक्षा क्षेत्र में (In the field of Defence):

12वीं के बाद रक्षा सेवा क्षेत्र में अपार संभावनाएं हैं। भारतीय वायु सेना, भारतीय थल सेना, भारतीय नौसेना आदि के द्वार 12वीं के बाद विद्यार्थियों के लिए खुल जाते हैं। जिनमे से संघ लोक सेवा आयोग (Union Public Service Commission) द्वारा आयोजित NDA (National Defence Academy) and NA (Naval Academy)  प्रमुख रूप से लोकप्रिय हैं।

वाणिज्य के क्षेत्र में (In the field of Commerce):

इस क्षेत्र में बी.कॉम (B.Com), एम्. कॉम (M.Com) के पश्चात शिक्षक (Teacher) भी बन सकते हैं एवं, अर्थशास्त्री (Economist), कंपनी सेक्रेटरी (CS), चार्ट्रेड एकाउंटेंसी (Chartered Accountancy), फाइनेंस (Finance), बैंक पी ओ (Bank PO) आदि विभिन्न करियर विकल्प भी मौजूद हैं।

कंप्यूटर साइंस के क्षेत्र में (In the field of Computer Science) :

कंप्यूटर साइंस में रूचि रखने वाले विद्यार्थियों के लिए BCA (Bachelor of Computer Application) और MCA (Master of Computer Application) करने का विकल्प मौजूद है। इस क्षेत्र में कंप्यूटर इंजीनियर (Computer Engineer), सॉफ्टवेयर इंजीनियर (Software Engineer), सिस्टम मैनेजर (System Manager), प्रोग्रामर (Programmer), वेब डिज़ाइनर (Web Designer), वेब डेवलपर (Web Developer), जैसे करियर विकल्प भी मौजूद हैं।

Career Tips Hindi

प्रशासनिक सेवा के क्षेत्र में (In the field of Administrative Services):

कुछ विद्यार्थियों में सिविल सर्विसेज (Civil Services) का  जज्बा कूट कूटकर भरा हुआ रहता है। ऐसे विद्यार्थी अपनी ग्रेजुएशन पूरी करने के साथ साथ  प्रशासनिक सेवा की भी तैयारी करते हैं। संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) एवं विभिन्न राज्य लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित सिविल सर्विसेज (Civil Services) की परीक्षा पास करके प्रशासनिक सेवा का हिस्सा बन सकते हैं।

पत्रकारिता के क्षेत्र में (In the field of Journalism):

जो विद्यार्थी पत्रकारिता (Journalism) के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो वह निम्न कोर्स पर ध्यान दे सकते हैं- B.A. in Journalism, BA with Mass Media, Diploma in Journalism, Bachelor in Journalism and Mass Communication (BJMC).

वकालत के क्षेत्र में (In the field of Law):

विद्यार्थियों के लिए वकालत भी एक बेहतर विकल्प है। इस क्षेत्र में BA LLB, LLB, LLM जैसे कोर्स के माध्यम से विद्यार्थी वकालत के क्षेत्र में अपना भविष्य संवार सकते हैं।

Career Tips in Hindi

निष्कर्ष: विद्यार्थियों (Students) को सोच समझकर किसी भी कोर्स का चुनाव करना चाहिए। उपरोक्त सभी क्षेत्रों में से सबसे पहले यह निर्धारित कीजिये कि आपकी रूचि किस क्षेत्र में है। उसी के अनरूप अपने विषय का चयन करें। आपका एक गलत निर्णय आपको अपनी मंज़िल  पर पहुँचने से रोक सकता है। यदि गलत कोर्स का चयन किया गया तो असफलता ही हाथ लगेगी।  सफलता के लिए आवश्यक है कि सही कोर्स का चयन किया जाये।

विद्यार्थियों (Students) को चाहिए कि किसी को देखने के बाद कोर्स का चुनाव न करें। माँ बाप भी यह समझें की अपनी इच्छा बच्चे पर न थोपें। बच्चे को यह निर्णय करने दो की वह क्या क्षेत्र चुनता है। उसके द्वारा चयन किये गए क्षेत्र की  विस्तृत जानकारी एकत्रित करें और बच्चें को वह कोर्स करवाएं।

किसी भी कोर्स को करने से पहले उस कोर्स की पूरी जानकारी जैसे कि कोर्स की मान्यता, कोर्स की  फीस, कोर्स की अवधि, संस्थान की मान्यता, उस कोर्स की भविष्य में कितनी मांग होगी आदि प्राप्त करने के बाद ही कोर्स  में एडमिशन लें।

दोस्तों उम्मीद है कि आपको यह लेख “12वीं के बाद क्या करें? (Career Tips after 12th)” अच्छा लगा होगा। यदि यह लेख आपको अच्छा लगा हो तो इसे शेयर कीजिए जिससे की और भी विद्यार्थियों को १२विन के बाद अपना करियर चुनने की पूरी जानकारी मिल सके।

परीक्षा की तैयारी कैसे करें: परीक्षा की तैयारी कैसे करें ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *