CTET क्या होता है ? CTET Exam की तैयारी कैसे करें? 

Table of Contents

सीटीईटी क्या होता है ? (CTET Kya Hota Hai) सीटीईटी की तैयारी कैसे करें?: यदि आप भी शिक्षक बनने का सपना अपनी आँखों में संजोए  हैं तो अपने इस परीक्षा का नाम अवश्य सुना होगा।

हो सकता है कि आप में से कुछ इस परीक्षा के विषय में जानते  हों। बहुत से विद्यार्थी इस परीक्षा में सम्मिलित होते हैं लेकिन पर्याप्त जानकारी के अभाव में  परीक्षा में सफल नहीं हो पाते हैं। यह परीक्षा की गिनती बहुत कठिन परीक्षाओं में होती है।

इस परीक्षा में उत्तीर्ण प्रतिशत भी बहुत कम होता है। इस प्रकार कुछ विद्यार्थी 1-2 बार असफल प्रयास करने के बाद इस परीक्षा को छोड़ देना ही उचित समझते हैं और अपने अध्यापक बनने के लक्ष्य से भटक जाते हैं।

ऐसे में CTET Exam को पास करने के लिए आपके पास पूरी जानकारी तथा सही रणनीति का होना आवश्यक है। आज हम आपको इस परीक्षा के विषय में पूरी जानकारी जैसे- CTET kya hota hai, CTET qualify kaise kare, CTET kyon karna chahiye, CTET ki taiyari kaise kare, CTET ke liye kya qualification hai, CTET se kya fayada hai, आदि।

यह भी पढ़ें: MBA कोर्स क्या है और कैसे करें ?

इस लेख के माध्यम से आप इस परीक्षा के विषय में पूरी जानकारी प्राप्त करेंगे। जिससे आप इस परीक्षा में सफल होंगे और अपने अध्यापक बनने के सपने को पूरा करेंगे।

CTET Exam क्या है? (What is CTET Examination?)

यह एक केंद्रीय अध्यापक पात्रता परीक्षा (Central Teacher Eligibility Test) है। जिसका आयोजन केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, नई दिल्ली (Central Board of Secondary Education, New Delhi) द्वारा किया जाता है।

इस परीक्षा का मुख्य उद्देश्य शिक्षक की अध्यापन की क्षमता (Teaching Ability) को परखना है। जो विद्यार्थी अध्यापक बनने का सपना देख रहे हैं उनके लिए इस परीक्षा का पास करना अनिवार्य है।

2011 से पहले कक्षा 1 से कक्षा 8 तक अध्यापक बनने के लिए ग्रेजुएशन जैसे B.A., B.Com., B.Sc., करने के बाद B.Ed. (Bachelor of Education) / B.T.C. करना आवश्यक होता था।

उसके बाद Government Teacher बनने के लिए अभ्यर्थी के द्वारा प्राप्त किये गए अंकों के आधार पर सरकार द्वारा Merit List से अध्यापकों का चयन किया जाता था।

2011 में सरकार ने एक नियम लागू किया गया। जिसके अनुसार अध्यापक बनने के इच्छुक अभ्यर्थियों की नई नियुक्ति के लिए सभी उम्मीदवारों को  उपर्युक्त योग्यताओं के अलावा CTET परीक्षा पास करनी आवश्यक है।

यह परीक्षा उम्मीदवारों की बच्चों को पढ़ाने की योग्यता (Child Development and Pedagogy, Language Proficiency, Teaching Ability, Logical Ability, Environmental Studies etc.) को परखती है।

जो उम्मीदवार इस परीक्षा में सफल होते हैं, वही शिक्षक बनने के लिए आवेदन कर सकते हैं। इस परीक्षा का उद्देश्य बच्चों को बेहतर शिक्षा प्रदान करना है। क्योंकि जब शिक्षक के पास ही पढ़ाने की क्षमता नहीं होगी तो वह  बच्चों को कैसे बेहतर शिक्षा दे सकते हैं। इसलिए  स्टेट परीक्षा का आयोजन किया जाता है। यह परीक्षा वर्ष में दो बार आयोजित की जाती है। 

यह भी पढ़ें:  अध्यापक (टीचर) कैसे बनें?

जिन अभ्यर्थियों ने B.A./B.Com./B.Sc. के साथ शिक्षा स्नातक (B.Ed.) की परीक्षा पास की हो और वह Government School Teacher बनना चाहते हैं तो उनके लिए इस परीक्षा का पास करना आवश्यक है।

ctet-kya-hai-ctet-eligibility-ctet-hindi

सीटीईटी परीक्षा का पूरा नाम क्या है? (What is the full form of CTET)

सीटीईटी परीक्षा का पूरा नाम CENTRAL TEACHER ELIGIBILITY TEST है 

CTET के लिए शैक्षिक योग्यता क्या है ? (CTET Eligibility) Who is eligible for CTET?

कक्षा 1 से कक्षा 5 तक (Primary Stage) के शिक्षक बनने के लिए शैक्षिक योग्यता (CTET Paper 1 Eligibility):

Senior Secondary (या इसके समकक्ष) कम से कम 50% अंकों के साथ उत्तीर्ण और 2-वर्षीय Diploma in Elementary Education (D.El.Ed.) (जिस नाम से भी जाना जाता हो) उत्तीर्ण या अंतिम वर्ष में उपस्थित हो रहे हों।

OR

Senior Secondary (या इसके समकक्ष) कम से कम 45% अंकों के साथ उत्तीर्ण और NCTE (Recognition Norms and Procedure), Regulations, 2002 के अनुसार 2-वर्षीय Diploma in Elementary Education (D.El.Ed.) (जिस नाम से भी जाना जाता हो) उत्तीर्ण या अंतिम वर्ष में उपस्थित हो रहे हों।

OR

Senior Secondary (या इसके समकक्ष) कम से कम 50% अंकों के साथ उत्तीर्ण 4-वर्षीय Bachelor of Elementary Education (B.El.Ed.) उत्तीर्ण या अंतिम वर्ष में उपस्थित हो रहे हों।

OR

Senior Secondary (या इसके समकक्ष) कम से कम 50% अंकों के साथ उत्तीर्ण 2-वर्षीय Diploma in Education (Special Education) उत्तीर्ण या अंतिम वर्ष में उपस्थित हो रहे हों।।*

OR

कम से कम 50% अंकों के साथ Graduation और शिक्षा स्नातक (B.Ed.)

यह भी पढ़ें: शिक्षा का वास्तविक अर्थ क्या है ?

कक्षा 6 से कक्षा 8 तक (Elementary Stage) के शिक्षक बनने के लिए शैक्षिक योग्यता (CTET Paper 2 Eligibility):

Graduation और 2-वर्षीय Diploma in Elementary Education (जिस नाम से भी जाना जाता हो) उत्तीर्ण या अंतिम वर्ष में उपस्थित हो रहे हों।

OR

कम से कम 50% अंकों के साथ Graduation और 1-वर्षीय Bachelor of Education (B.Ed.) उत्तीर्ण या अंतिम वर्ष में उपस्थित हो रहे हों।

OR

कम से कम 45% अंकों के साथ Graduation और 1-वर्षीय बैचलर इन एजुकेशन (B.Ed) में उत्तीर्ण। इस संबंध में समय-समय पर जारी NCTE (मान्यता मानदंड और प्रक्रिया) विनियमों के अनुसार।

OR

Senior Secondary (या इसके समकक्ष) कम से कम 50% अंकों के साथ उत्तीर्ण और 4-वर्षीय Bachelor of Elementary Education (B.El.Ed.) उत्तीर्ण या अंतिम वर्ष में उपस्थित हो रहे हों।

OR

Senior Secondary (या इसके समकक्ष) कम से कम 50% अंकों के साथ उत्तीर्ण और 4-वर्षीय B.A/B.Sc.Ed or B.A.Ed/B.Sc.Ed. उत्तीर्ण या अंतिम वर्ष में उपस्थित हो रहे हों।

OR

कम से कम 50% अंकों के साथ Graduation और 1-वर्षीय B.Ed. (Special Education) उत्तीर्ण या उपस्थित हो रहे हों।*

CTET Kya Hota Hai

CTET की परीक्षा कब आयोजित की जाती है? ( When is the CTET exam conducted?)

सी.टी.ई.टी. की परीक्षा केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, नई दिल्ली (Central Board of Secondary Education, New Delhi) द्वारा वर्ष में दो बार जुलाई और दिसंबर माह में आयोजित की जाती है।

CTET की परीक्षा के लिए आवेदन कैसे करें? ( How to apply for CTET exam?)

जो CTET की परीक्षा में सम्मिलित होना चाहते हैं, वह CTET की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन माध्यम से आवेदन कर सकते हैं। (ctet apply online at www.ctet.nic.in)

CTET की परीक्षा किस भाषा में आयोजित की जाती है ? (CTET Exam Language)

सी.टी.ई.टी. की परीक्षा हिंदी तथा अंग्रेजी सहित 20 भारतीय भाषाओँ में आयोजित की जाती है। परीक्षार्थियों को इनमे से दो भाषाओँ का चयन करना होता है। भाषाओं की सूची और कोड इस प्रकार हैं:

भाषा कोड भाषा कोड भाषा कोड भाषा कोड
English 01 Gujarati 06 Marathi 11 Sanskrit 16
Hindi 02 Kannada 07 Mizo 12 Tamil 17
Assamese 03 Khasi 08 Nepali 13 Telugu 18
Bengali 04 Malayalam 09 Oriya 14 Tibetan 19
Garo 05 Manipuri 10 Punjabi 15 Urdu 20

सीटीईटी परीक्षा की संरचना क्या है? ( CTET Exam Structure):

CTET परीक्षा में सभी प्रश्न बहुविकल्पीय (MCQ) होते हैं। प्रत्येक प्रश्न 1 अंक का होता है। इसमें नकारात्मक अंकन नहीं होता है।

सीटीईटी परीक्षा में कितने पेपर होते हैं? (How many papers are there in CTET exam?)

CTET परीक्षा में में दो पेपर होते हैं:

Paper-I – जो अभ्यर्थी कक्षा 1 से कक्षा 5 तक के लिए शिक्षक बनना चाहते हैं।

Paper-II – जो अभ्यर्थी कक्षा 6 से कक्षा 8 तक के लिए शिक्षक बनना चाहते हैं।

 “जो उम्मीदवार कक्षा 1 से 5 तक और कक्षा 6 से 8 तक दोनों (Both Primary State and Elementary Stage) में शिक्षक बनने के लिए आवेदन करना चाहते हैं वह अपनी योग्यता के अनुसार दोनों पेपर (Paper-I & Paper-II) में सम्मिलित हो सकते हैं।“

सीटीईटी परीक्षा का पैटर्न क्या है? (CTET Exam Pattern)

CTET Paper 1 Pattern:

Paper-I (Class I-V) – सभी अनिवार्य हैं, अवधि (Duration): 02:30 Hrs. 

(i) Child Development and Pedagogy 30 30
(ii) Language I (compulsory) 30 30
(iii) Language II (compulsory) 30 30
(iv) Mathematics 30 30
(v) Environmental Studies 30 30
Total   150 MCQ  150 Marks

CTET Paper 2 Pattern:

Paper-II (Class VI-VIII)– सभी अनिवार्य हैं, अवधि (Duration): 02:30 Hrs. (CTET Paper 2)

(i) Child Development & Pedagogy (compulsory) 30 30
(ii) Language I (compulsory) 30 30
(iii) Language II (compulsory) 30 30
(iv) Mathematics and Science
(for Mathematics and Science teacher)
60 60
OR
(v) Social Studies/Social Science (for Social Studies/Social Science teacher) 60 60
*For any other teacher – either (IV) or (V)
Total   150 MCQ  150 Marks

CTET Kya Hota Hai, CTET Kaise Kare, CTET ke liye kya eligibility hai, CTET Question Paper  Pattern

CTET परीक्षा की तयारी कैसे करें (How to prepare for CTET exam):

किसी भी परीक्षा में कामयाबी पाने के लिए आवश्यक है कि उस परीक्षा के लिए एक रणनीति बनायीं जाये। आपको यह पता होना चाहिए कि ऐसा क्या करें जिससे कि हमें  कामयाबी मिले। यहाँ पर आपको ऐसी ही कुछ बातें बताई जा रही हैं जिनके माध्यम से आप इस परीक्षा में कामयाबी पा सकते हैं:

सिलेबस को अच्छी तरह पढ़ें (Read the syllabus thoroughly):

यदि आप CTET Exam में सफल होना चाहते हैं तो सबसे पहले CTET Exam के Syllabus को ध्यान से पढ़ें। परीक्षा में प्रश्न किन Topics से पूछे जायेंगे, जब तक आपको यह पता नहीं होगा तब तक आप तैयारी नहीं कर सकते।

CTET Syllabus को CTET परीक्षा की आधिकारिक वेबसाइट www.ctet.nic.in से डाउनलोड कर लें। फिर Syllabus के अनुसार अपने स्टडी टाइम टेबल में सभी टॉपिक्स को जगह दें।

ctet-ki-taiyari-kaise-kare

परीक्षा पैटर्न को ध्यान से समझें (Understand the exam pattern carefully):

आपको यह जानना आवश्यक है की प्रश्न पत्र में कितने प्रश्न आएंगे?, प्रत्येक प्रश्न के लिए कितने अंक हैं?, कहीं ऋणात्मक अंकन तो नहीं है, परीक्षा की अवधि कितनी है?, प्रश्न पत्र में कितने सेक्शन हैं?, किस सेक्शन में कितने प्रश्न हैं?, उत्तीर्ण होने के लिए कम से कम कितने अंक प्राप्त करना अनिवार्य है? आदि। जब आपको यह सब बातें पता होंगी तो आप बेहतर तरीके से अपनी तैयारी कर पाएंगे।

NCERT की किताबों से पढ़ें (Study from NCERT books):

किसी भी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए NCERT की पुस्तकें सबसे बेहतर होती हैं। CTET के लिए भी NCERT की पुस्तकों का ही अनुसरण करें। NCERT की पुस्तकें आपको किसी भी Topic की Deep Knowledge प्रदान करती हैं।

स्वयं का परीक्षण करें (Test yourself):

तैयारी के बीच-बीच में अपना स्वयं का मूल्यांकन भी करते रहे। आप Mock Test करके अपनी तैयारियों का अनुमान लगा सकते हैं। इससे आपको यह पता चलता है कि कहाँ पर अभी और मेहनत करने की जरुरत है।

पिछले वर्षों के प्रश्न पत्रों को समझने का प्रयास करें (Try to understand previous years question papers):

आपको यदि परीक्षा की बारीकियों को समझना है तो आपको पिछले वर्षों के प्रश्न पत्रों (CTET Previous years solved papers) को  देखना होगा और उनका विश्लेषण करना होगा।

उससे आपको परीक्षा में पूछे गए प्रश्नों की प्रकृति, Important Topics for CTET आदि की जानकारी मिलेगी। आप उसके आधार पर अपनी तैयारी को आगे बढ़ा सकते हैं।

तनाव बिलकुल भी न लें (Don’t take Stress):

परीक्षा परिणाम के  लिए बिलकुल भी परेशान न हों। आप बस मन लगाकर परीक्षा की तयारी करें। जो लोग इस परीक्षा में सफल होते हैं, उनके पास कोई जादुई छड़ी नहीं है, और न ही उनके पास कोई विशेष शक्ति है।

वो भी आपके जैसे ही एक सामान्य इंसान ही हैं। इसलिए तनाव लिए बिना परीक्षा की तैयारी करें। अपने आप पर यह विश्वास करें कि आप सफल अवश्य होंगे।

CTET Kya Hota Hai, CTET kaise kare, CTET ki poori jankari hindi me

सीटीईटी में पास होने के लिए कितने नंबर चाहिए? (CTET Qualifying Marks):

इस परीक्षा में सफल होने के लिए अभ्यर्थी को 60% अंक प्राप्त करना अनिवार्य है। इस प्रकार प्रत्येक प्रश्न पत्र में 150 में से कम से काम 90 अंक प्राप्त करना अनिवार्य है।

हालांकि  सरकार ने यह भी कहा है कि SC/ST/OBC श्रेणी के उम्मीदवारों को School Management आरक्षण के नियमानुसार छूट दे सकते हैं। लेकिन यह सलाह भी दी जाती है कि नियुक्ति प्रक्रिया में CTET Score को वेटेज देना चाहिए।

क्या CTET के बाद सीधे नौकरी मिल जाती है? ( Do you get a job directly after CTET?)

यहाँ यह भी ध्यान रखने योग्य बात है कि CTET परीक्षा पास करने से ही आप शिक्षक नहीं बन जाते। यह केवल एक अध्यापक पात्रता परीक्षा (Teacher Eligibility Test) है, जो आपको शिक्षक बनने के लिए आवेदन करने के योग्य बनाती है।

इसका अर्थ यह है कि सरकार द्वारा जब भी शिक्षकों की विज्ञप्ति निकाली जाएगी तो आप उसमे तभी आवेदन कर सकते हैं जब आपके पास अन्य वांछित योग्यताओं के साथ CTET प्रमाण पत्र होगाबिना CTET पास किये हुए आप अध्यापक के आवेदन नहीं कर सकते हैं।

CTET परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद क्या करें? (Job Options after CTET) :

  • राज्य सरकार के अधीन विद्यालयों में जब भी अध्यापक की नियुक्तियां निकलेंगी तो आप उनमे आवेदन कर सकते हैं।
  • केंद्रीय संगठनों जैसे केंद्रीय विद्यालय, नवोदय विद्यालय तथा आर्मी पब्लिक स्कूलआदि में अध्यापक के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • विभिन्न Private Schools में अध्यापक के लिए आवेदन कर सकते हैं। वर्तमान समय में अच्छे प्राइवेट स्कूल CTET Qualified Candidates को ही अपने यहाँ पढ़ाने के लिए रखते हैं।
  • अपना कोचिंग सेंटर (Coaching Centre) खोल सकते हैं।

CTET 2020

CTET- July 2020 Information Bulletin (CTET 2020 Notification):

सी.टी.ई.टी.- जुलाई 2020 सूचना बुलेटिन CTET की आधिकारिक वेबसाइट www.ctet.nic.in से download करें।

सी.टी.ई.टी. जुलाई 2020 परीक्षा की तिथि (CTET Exam Date 2020): 05.07.2020 (Sunday)

सी.टी.ई.टी. प्रमाणपत्र की वैधता अवधि (Validity period of CTET Certificate):

  • CTET Qualifying Certificate की वैधता अवधि सभी वर्गों के उम्मीदवारों के लिए सीटीईटी परीक्षा परिणाम आने की तिथि से लेकर 7 साल तक (seven years from the date of declaration of CTET Result) वैध है।
  • सीटीईटी प्रमाण पात्र प्राप्त करने के लिए किये जाने वाले प्रयासों की संख्या पर कोई प्रतिबन्ध नहीं है। यदि आप एक बार यह परीक्षा उत्तीर्ण कर लेते हैं तो दोबारा अपने स्कोर को सुधारने के लिए आप फिर से परीक्षा में सम्मिलित हो सकते हैं।

दोस्तों उम्मीद है की इस लेख “सीटीईटी क्या होता है ? (CTET Kya Hota Hai) सीटीईटी की तैयारी कैसे करें (CTET ki taiyari kaise kare)?” में आपको CTET परीक्षा की पूरी जानकारी प्राप्त हुई (CTET full information in Hindi)होगी।

यदि आपके मन में CTET को लेकर कोई प्रश्न है तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके हमें बता सकते हैं। हम पूरी कोशिश करेंगे कि आपको आपके प्रश्न का सही उत्तर मिले। यदि आपको यह जानकारी अच्छी लगी तो इसे शेयर अवश्य करें। धन्यवाद

यह भी पढ़ें:

D.El.Ed क्या है? D.El.Ed में अपना भविष्य कैसे बनाएं ?

B.Ed. क्या है, B.Ed. कैसे करें? B.Ed. की पूरी जानकारी हिंदी में

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *