HOW TO IMPROVE YOUR SELF ESTEEM IN HINDI? 
अपना आत्म सम्मान कैसे बढ़ाएं? 

“आत्मसम्मान कैसे बढ़ाएं ? How to improve your Self Esteem?”: मनुष्य एक सामाजिक प्राणी है। वह इस धरती पर सामाजिक बंधनों से जुड़ा हुआ एकमात्र प्राणी है। सामाजिक प्राणी होने के नाते उसे एक दूसरे के साथ सम्मान से रहने की आवश्यकता होती है। हर व्यक्ति चाहता है की समाज में उसकी इज्जत हो। सब लोग उसे इज्जत के साथ पुकारें। उसकी क़द्र करें।यदि सम्मान एक बार खो गया तो वह व्यक्ति समाज में जीते जी ही मर जाता है। एक बार खोया हुआ सम्मान वापस नहीं आ सकता।

आत्म सम्मान व्यक्ति के लिए खाने से भी अधिक आवश्यक है। खाना तो सिर्फ आपके शरीर को जिन्दा रखता है लेकिन आत्मसम्मान व्यक्ति की शक्शियत, व्यक्ति की आत्मा को जिन्दा रखता है। यह व्यक्ति का आत्मसम्मान ही है जो मरने के बाद भी व्यक्ति की शक्शियत को गर्व से समाज में जिन्दा रखता हैं। लोग वर्षों बबाद भी गर्व से उस व्यक्ति का नाम पुकारते हैं।

व्यक्ति की इज्जत उसके द्वारा किये गए कार्यों तथा समाज के प्रति उसके व्यवहार पर निर्भर करती है। यह इसका परिणाम है की  वह समाज में किस प्रकार जीवन जीता है। अच्छे कार्यों को करने वाला व्यक्ति लोगों के बीच में सम्मान पाता है तथा समाज में एक आदर्श स्थापित करता है। वहीँ बुरे कार्यों को करने वाले व्यक्ति को कोई भी सम्मान की दृष्टि से नहीं देखता है। हर कोई उससे दूर ही रहना चाहता है।

 

WHAT TO DO TO IMPROVE YOUR SELF ESTEEM?

इसलिए आज इस लेख में हम सीखेंगे की ऐसा क्या करें , जिससे कि समाज में हमें इज्जत मिल सके। लोग हमारा सम्मान करें। इन महत्वपूर्ण बातों से आप एक इज्जतदार शक्शियत बना सकते हैं:

खुद अपनी इज्जत करें (Respect yourself):

आपके आत्म सम्मान (Self Esteem) के लिए सबसे पहले यह आवश्यक है की आप खुद की इज्जत (Respect) करें। जब तक आप अपनी ही इज्जत नहीं करेंगे तब तक लोग भी आपकी इज्जत नहीं करेंगे। अपने मन से हीन भावना निकाल दें और अपने आपको आत्मविश्वास (Self Confidence)  से भरा हुआ पाएं। अपने मन को सकारात्मक रखें। अपने ऊपर विश्वास करें। तभी लोग भी आपकी इज्जत करेंगे।

दूसरों की सहायता करें (Help Others):

हमेशा जब भी मौका मिले तो समाज में दूसरे लोगों की सहायता करने के लिए तत्पर रहें। समाज के वंचित वर्ग की सहायता करने से आपको आंतरिक ख़ुशी मिलती है। इससे आपका आत्मविश्वास बढ़ता है और आपके आत्मसम्मान में भी वृद्धि होती है।

अपनी तुलना दूसरों से न करें (Don’t compare yourself to others):

कभी भी अपनी तुलना किसी और से न करें। ईश्वर ने आपको पूरी दुनिया में सबसे अलग बनाया है। आपके जैसा कोई और नहीं हैं। हर व्यक्ति में कुछ ऐसे अवश्य होता है जो दूसरे व्यक्तियों में नहीं होता है। इसलिए ऐसा न सोचें की दूसरा मुझसे श्रेष्ठ है और मैं उसकी बराबरी नहीं कर सकता। अपने क्षेत्र में वह मजबूत अवश्य होगा किन्तु अपने क्षेत्र में आप भी मजबूत हैं। अपने आपको कभी भी किसी से कम न आंके।

10 WAYS TO IMPROVE SELF ESTEEM IN HINDI

साफ-सुथरे कपडे पहनें (Wear clean clothes):

अपने कपड़ों को हमेशा साफ़ सुथरे रखें। कपड़ों का चयन भी सोच समझकर करें। आपके कपड़ों से आपका व्यक्तित्व झलकता है। यदि अपने मैले-कुचले कपडे पहने होंगे तो आप अपनी ही नजरों में आत्मविश्वास से भरे हुए नहीं होंगे। जब आप अच्छे साफ सुथरे कपडे पहनते हैं तो आपका आत्मविश्वास खुद ही बढ़ जाता है। जब आप किसी के सम्मुख अच्छे कपडे पहनकर जाते हैं तो वह आपसे सम्मान के साथ बात करता है।

सभ्य भाषा का इस्तेमाल करें (Use decent language):

इज्जत पाने के लिए आवश्यक है कि आप सभ्य भाषा का इस्तेमाल करें। किसी के लिए भी अपशब्दों का इस्तेमाल न करें। जब आप अपशब्दों का इस्तेमाल करते हैं तो समाज में आपकी छवि नकारात्मक बनती है। लोग आपसे बात करना भी पसंद नहीं करते। जब आप सभ्य भाषा का प्रयोग करते हैं तो लोग आपसे बात करना पसंद करते हैं और समाज में आपकी अच्छी छवि बनती है।

दूसरों की इज्जत करें (Respect others):

यदि हम यह चाहते हैं की लोग हमारी इज्जत करें तो हमें लोगों को भी इज्जत देनी होगी। दूसरों के साथ वह व्यव्हार कदापि न करें जो आपको अपने लिए पसंद न हो।  जैसे आपको अपनी इज्जत पसंद है ठीक उसी प्रकार अन्य लोगों को भी तो उनकी इज्जत पसंद है। जब आप दूसरों को सम्मान देंगे तो वह भी आपको सम्मान देंगे।

how-to-earn-respecct-in-society

10 TIPS FOR BUILDING SELF ESTEEM

नारी का सम्मान करें (Respect woman):

हमारा देश भारत वह देश है जहाँ स्त्री की कन्या के रूप में माँ दुर्गा मानकर पूजा की जाती है। जहाँ नारी का सम्मान होता है वहां देवताओं का निवास होता है। व्यक्ति की मानसिकता का पता इससे भी चलता है की वह स्त्रियों से कैसे व्यव्हार करता है। हमेशा स्त्रियों का सम्मान करें। जब आप स्त्रियों का सम्मान करेंगे तो समाज में आपको एक अच्छे इंसान के रूप में जाना जायेगा।

अपने माँ बाप की सेवा करें (Serve your parents):

माता-पिता की सेवा करना हर व्यक्ति का सर्वप्रथम कर्त्तव्य है। यदि किसी घर में माँ-बाप दुखी हैं तो उस घर में कभी भी खुशियां नहीं आ सकती। माँ बाप को दुःख देकर आप कभी भी सम्मान नहीं पा सकते। जो व्यक्ति अपने माँ-बाप का सम्मान ही नहीं करेगा वह समाज में कैसे सम्मान पा सकता है। इसलिए अपने माँ बाप का सम्मान करें, उनकी सेवा करें। उनके आशीर्वाद से ही आप जिंदगी में कामयाबी और सम्मान पा सकते हैं।

किसी का मजाक बनाएं (Don’t make fun of anyone):

जिंदगी में हंसना बहुत आवश्यक है। लेकिन यह ध्यान रखना भी आवश्यक है की किसी इंसान की कमियों का या उस इंसान का मजाक न बनाया जाये। मजाक करने की भी एक सीमा होती है। यह आवश्यक है कि उस सीमा को पार न किया जाये। जब हम किसी के ऊपर हँसते हैं तो दरअसल हम मजाक की आड़ में उस इंसान का अपमान करते हैं, ऐसा कदापि न करें। इससे हमारा सम्मान गिरता है। मजाक करते वक़्त यह ध्यान रखें की केवल जोक्स आदि पर या किसी हंसने की बात पर ही हँसे। किसी व्यक्ति का मजाक न बनाएं।

HOW TO GET RESPECT IN SOCIETY IN HINDI?

 व्यसनों से दूर रहे (Stay away from addictions):

समाज में एक सम्मानजनक जिंदगी जीने के लिए यह आवश्यक है की आप व्यसनों से दूर रहे। यह आपके शरीर पर तो नकारात्मक असर डालते ही हैं साथ ही समाज में आपका सम्मान भी गिरता है। इससे लोग आपको बुरे इंसान के रूप में जानते हैं। इसलिए एक स्वस्थ और सम्मानित व्यक्ति बनने के लिए आवश्यक है कि आप किसी भी प्रकार के व्यसन में न पड़ें। 

दोस्तों इस लेख “आत्मसम्मान कैसे बढ़ाएं? How to improve your Self Esteem?” में  इन 10 तरीकों से आप अपने आत्मसम्मान के वृद्धि कर सकते हैं तथा इन तरीकों का उपयोग करके आप समाज में सम्मान पा सकते हैं। यदि आप इन तरीको को अपनी जिंदगी में उतारते हैं तो लोग स्वतः ही आपका सम्मान करेंगे। दोस्तों, यदि आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे अन्य लोगों तक भी शेयर कीजिये। आप अपनी अमूल्य राय नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में कमेंट करके भी दे सकते हैं।  धन्यवाद

यह भी पढ़ें:

आत्मविश्वास बढ़ाने के 10 महत्वपूर्ण तरीके

अच्छी आदतें जो आपकी जिंदगी बदल देंगी

जीवन में कुछ भी कैसे प्राप्त करें ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *