Money Saving Tips in Hindi

Table of Contents

पैसा कैसे बचाएं (Money saving tips in Hindi): दोस्तों अमीर बनने के लिए अधिक पैसे कमाना जरुरी नहीं है। इसके लिए आवश्यक है कि आप पैसे बचाने की कला जानते हों।

कोई चाहे कितने भी पैसे  कमा ले लेकिन यदि उसे उन पैसों को मैनेज करना नहीं आता तो वह कुछ नहीं बचा पायेगा।

लोग अक्सर अच्छी सैलरी प्राप्त करते हैं या अपने बिज़नेस से अच्छा पैसा कमाते हैं। लेकिन इसके बावजूद उनकी जेब में कुछ भी नहीं बचता।

वे यह सोचते हैं कि यदि हमारे पास अधिक पैसा आ जायेगा तो हम ज्यादा पैसे बचा लेंगे। लेकिन ऐसा बिलकुल भी नहीं होता है।

जैसे-जैसे हमारी सैलरी बढ़ती है, हमारे खर्चे भी बढ़ते जाते हैं। एक व्यक्ति को जब करियर के शुरुआती दिनों में जो सैलरी मिलती है। वह तब भी पैसे नहीं बचाता है और जब उसकी सैलरी 4 गुना अधिक भी हो जाती है वह तब भी पैसे नहीं बचाता है।

इसका कारण है पैसे को मैनेज करने की योग्यता का न होना। इस पोस्ट में हम आपको बताएँगे कि किस प्रकार आप पैसे को बचा पाएंगे। ये best Money Saving Tips in Hindi आपको बताएँगे कि पैसे बचाने के लिए कोई बड़ी टेक्नोलॉजी जानने की जरुरत नहीं है।

बल्कि छोटे छोटे उपायों के द्वारा आपके बचत खाते में धनराशि निरंतर बढ़ती जाएगी।

पैसे बचाने के 21 आसान तरीके (Money Saving Tips in Hindi)

1. महीने का बजट बनाएं:

पूरे महीने का बजट बनाएं। इससे आपको यह पता चलेगा कि आपकी आमदनी में से कितना हिस्सा कहाँ खर्च हो रहा है। और कितना पैसा आप बचा सकते हो। आप हर खर्च के लिए अलग से पैसे रख सकते हो।

सबसे पहले अपने पूरे महीने का बिल, बिजली का बिल, मोबाइल फ़ोन रिचार्ज, डिश टीवी रिचार्ज, इंटरनेट का बिल, महीने भर का राशन तथा सब्जियां, बच्चों की फीस, मकान की क़िस्त, गाडी की क़िस्त तथा इन्शुरन्स  आदि अन्य जो भी खर्चे हों उन्हें एक कागज पर लिख लें और यह निर्धारित करें की आपको इन सबके भुगतान के लिए कितने पैसों की जरुरत है।

आप चाहें तो अपने बजट को बनाने में वित्तीय सलाहकार की मदद भी ले सकते हैं। आपको यह पता होना चाहिए की महीने में कितना पैसा कहाँ जा रहा है। बिना लिखित खर्चों के आपकी पूरी सैलरी कहाँ चली जाएगी, आपको पता भी नहीं चलेगा।

2. सबसे पहले बचत को अलग निकाल लें:

सबसे पहले अपनी आमदनी का एक भाग बचत के रूप में अलग निकाल लें। जैसे यदि आपकी मासिक सैलरी या आमदनी  20,000/- रूपये है तो इसमें से कम से कम 10% अर्थात 2,000/- रूपये आपको अलग से निकलकर बचत खाते में जमा करने हैं।

आप इस प्रतिशत को बढाकर 20% या 25% प्रतिशत भी कर सकते हैं। अब 2,000/- रूपये अलग निकालने के बाद आपकी आमदनी बच जाती है 18,000/- रूपये। अब आपको इसमें से ही अपने सारे खर्चे पूरे करने है। इस प्रकार आपको यह हर महीने करना है।

3. आमदनी से कम पर रहना सीखें:

हममे से अधिकांश लोगों के पैसे न बचा पाने का सबसे बड़ा कारन यह है कि हम अपनी आमदनी से अधिक खर्च करते हैं। हमने अपने खर्चों को इतना बढ़ा लिया है कि सैलरी में गुजारा नहीं होता है।

अपने खर्चों को पूरा करने के लिए हम फिर कर्ज लेते हैं और इस प्रकार कर्ज का जाल हमें अपनी ओर खींचता चला जाता है। अपने आप से ये वादा करो कि सैलरी या आमदनी से कम पर ही गुजारा हो।

यदि पैसे न बचें तो कर्ज लेकर शौक पूरा न करें। अगले महीने का वेट करें। यदि उस महीने में भी पैसे न बचें तो उससे नेक्स्ट महीने का वेट करें। लेकिन कर्ज लेकर शौक पूरा न करें। जितनी आमदनी होती है उसके लगभग 70% या 75% से ही आपके सभी खर्चे पूरे हो जाने चाहिए।

21 ways to save money in hindi

4. क्रेडिट कार्ड का बेवजह प्रयोग बंद कर दें:

आपका क्रेडिट कार्ड एक ऐसा माध्यम है जिसका इस्तेमाल करने में यदि हलकी सी भी लापरवाही हुई तो यह आपके सरे फाइनेंसियल प्लानिंग को मिटटी में मिला देगा।

यह एक अच्छा माध्यम है क्योंकि यदि कभी अचानक आपके घर में ऐसी नौबत आ जाये कि रात में हॉस्पिटल जाना पड़ जाये और आपकी जेब में पैसे न हों।  तो आपको इधर-उधर भटकने की जरुरत नहीं है।

आप अपने क्रेडिट कार्ड से भुगतान कर सकते हो और बाद में क्रेडिट कार्ड की पेमेंट कर सकते हो। लेकिन इस प्रकार की इमरजेंसी के लिए क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल बहुत कम होता है। क्रेडिट कार्ड का प्रयोग लोग अंधाधुंध शॉपिंग के लिए करते हैं।

क्रेडिट कार्ड से महँगी चीजें खरीदकर उनका भुगतान किस्तों में करते हैं। जिससे उनके ऊपर अतिरिक्त भुगतान की जिम्मेदारी आ जाती है। इसलिए क्रेडिट कार्ड का प्रयोग हो सके तो बिलकुल न करें। यह मानकर चलें की आपके पास क्रेडिट कार्ड है ही नहीं।

5. फिजूलखर्ची बंद करें:

अक्सर लोग उन चीजों को खरीद लेते हैं। जिनकी उनको आवश्यकता ही नहीं होती है। उदाहरण के लिए आप जानते हैं कि आपका मोबाइल अभी सही कार्य कर रहा है लेकिन मार्किट में नया मॉडल लांच हुआ है तो हमें भी वही चाहिए। इसी सोच के कारण हम फ़ालतू खर्च कर देते हैं।

जिससे हमारे पास कुछ भी नहीं बचता है और उल्टा हम कर्ज में फँस जाते हैं। आपको यह ध्यान रखना होगा की क्या खरीदना इम्पोर्टेन्ट है और क्या इम्पोर्टेन्ट नहीं है। कुछ लोग सेल देखते ही फिजूलखर्च शुरू कर देते हैं। इस पर रोक लगाकर ही आप अपने पैसे बचाने के लक्ष्य को पा सकते हैं।

Easy ways to save Money (Hindi)

6. प्रयोग होने वाला पुराना सामान बेच दें :

जो सामान आपके प्रयोग में नहीं आ रहा है। और काफी समय से आपके गोदाम में पड़ा है। उसे रखे रहने से कोई फायदा नहीं है। बहुत से लोगों के पास लम्बे समय से ऐसी बहुत सी वस्तुएं पड़ी रहती हैं। जिनको उन्होंने वर्षों से प्रयोग नहीं किया है और न ही वे आगे प्रयोग में आएंगी। इस प्रकार के सामान को बेच दें और उससे जो आमदनी हो उसे बचत खाते में जमा कर दें।

7. बिलों का भुगतान समय पर करें:

अपने सभी प्रकार के बिलों जैसे बिजली बिल, इंटरनेट बिल, मोबाइल का बिल, डिश टीवी का बिल, लैंडलाइन टेलीफोन का बिल आदि की बिल जमा करने की तारीख को नोट करके रखें। सभी बिलों का भुगतान उनकी देय तिथि पर करना सुनिश्चित करें। देय तिथि के बाद जमा करने पर काफी अधिक अतिरिक्त शुक्ल वसूला जाता है जो आपकी जेब से अनावश्यक खर्चों के रूप में बाहर आएगा। इसलिए सभी बिल समय पर जमा करें।

8. घर के बिलों पर नियंत्रण रखें:

अपने घर के विभिन्न प्रकार के बिलों जैसे बिजली का बिल, टेलीफोन का बिल, इंटरनेट का बिल, मोबाइल का बिल आदि को जरुरत के हिसाब से ही उपयोग करें करें। जैसे जब उपयोग में न हो तो लाइट बंद कर दें, AC, Heater या Geyser आदि को आवश्यकतानुसार ही उपयोग करें। इंटरनेट का सीमित उपयोग करें। मोबाइल के बिल को भी कम करने की कोशिश करें। इस प्रकार आप सभी बिलों को कम कर सकते हैं।

Easy Tips to save money in Hindi

9. घर का किराया कम करें:

यदि आप पैसे बचाने की दिशा में आगे बढ़ना चाहते हो तो आपको चाहिए कि किराये के घर में अधिक पैसे खर्च न करें। जितना हो सके अपने बजट के घर को ही किराये पर लें। सिर्फ दिखावे और शान के लिए बड़ा घर किराये पर न लें।

बहुत से लोग सिर्फ अपने रिश्तेदारों और दोस्तों को दिखने के लिए 3 बैडरूम या उससे भी बड़ा घर किराये पर ले लेते हैं। जिसके लिए उन्हें हर महीने भारी-भरकम रकम चुकानी पड़ती है। यदि आप भी उनमे से एक हैं तो जल्दी से अपने मकान को बजट में ले आईये। वरना आप भी कभी पैसे नहीं बचा पाएंगे।

10. बाहर खाना खाने जाएं:

बाहर जाकर हम खाने पर बहुत सा पैसा खर्च कर देते हैं। यदि हो सके तो बाहर खाना खाने जाना बंद कर दें। और यदि पूरी तरह बंद न कर सको तो इसे नियंत्रित अवश्य करो। जैसे यदि आप महीने में हर वीकेंड बाहर खाना खाने जाते हैं तो इसे महीने में बस १ बार तक सीमित करो। और उससे जो रकम बचती है उसे निवेश में लगाओ।

Money Saving Tips in Hindi

11. छुट्टियों की प्लानिंग करें :

यदि आप छुट्टियाँ मनाने बाहर जाना चाहते हैं। तो उसके लिए पहले से ही प्लानिंग करें। यह पता करें कि आपके इस पूरे टूर में कितने पैसे खर्च होने वाले हैं। जब आपको यह पता चल जाये तो उसके हिसाब से हर महीने थोड़ा-थोड़ा धनराशि छुट्टियों के लिए इकट्ठी करना शुरू करें।

जैसे यदि आपको अगले साल घूमने जाना है और उसमे आपके 30,000/- रूपये लगने वाले हैं तो आप अभी से हर महीने 2,500/- रूपये जमा करना प्रारम्भ कीजिये। इस प्रकार अगले साल तक आपके पास 30,000/-रूपये हो जायेंगे। इससे आपको वित्तीय रूप से परेशान भी नहीं होना पड़ेगा और आप आराम से छुट्टियां मनाने जा सकते हैं।

12. पब्लिक ट्रांसपोर्ट का प्रयोग करें :

अपने दफ्तर या मार्किट आदि जाने के लिए public transport जैसे मेट्रो, बस तथा कैब आदि का प्रयोग करें। जब आप अपनी व्यक्तिगत कार से जाते हैं तो उसमे आपका डीज़ल / पेट्रोल / सी एन जी आदि के रूप में आपका काफी धन चला जाता है। इस प्रकार आप पैसे बचा सकते हैं और उस पैसे से निवेश कर सकते हैं।

13. ऑनलाइन शॉपिंग की साइट्स पर बेवजह विजिट करें:

सामान खरीदने के लिए ऑनलाइन प्लेटफार्म एक अच्छा प्लेटफार्म है।  जहाँ हमें काफी वस्तुएं heavy discounted price में मिल जाती है। इस प्रकार ग्राहकों के लिए यह अच्छा अवसर उपलब्ध करवाता है। लेकिन ऑनलाइन साइट्स पर तभी विजिट करें जब आपको कुछ खरीदना हो।

यदि आप बिना वजह ही इन पर विजिट करेंगे तो न चाहते हुए भी लुभावने ऑफर के जाल में फँस जाएंगे। और आप कुछ न कुछ तो ले ही लेंगे। जबकि आपको उसकी आवश्यकता भी नहीं थी।

money-saving-tips-in-hindi

Money Saving Tips in Hindi

14. पूरे परिवार का स्वस्थ्य बीमा अवश्य करवाएं:

अपने पुरे परिवार के लिए Health Insurance अवश्य लें। स्वास्थय सम्बन्धी समस्याएं किसी भी समय किसी की जिंदगी में दस्तक दे सकती हैं। ऐसे में यदि आपने health insurance नहीं करवाया है तो यह  आपकी जेब पर बहुत भारी पड़ सकता है।

हो सकता है कि आपको कर्ज लेना पड़ जाए। इसलिए इस सब से बचने के लिए आपके और आपके परिवार के पास health insurance का सुरक्षा कवच तो होना ही चाहिए।

15. इमरजेंसी फंड के लिए पैसे जमा करें:

अपनी आमदनी में से हर महीने थोड़ा-थोड़ा पैसे emergency fund के लिए अवश्य जमा करें। आपके पास अपने महीने के टोटल खर्च से लगभग 6 गुना धनराशि emergency fund के रूप में होनी चाहिए।

ताकि यदि किसी महीने आपको सैलरी नहीं मिले और आपकी जॉब छूट जाये तो आपके पास अपने घर की आजीविका के लिए सुरक्षित धनराशि हो। इसलिए emergency fund का निर्माण अवश्य करें।

16. अपने महंगे शौक को कम करें:

आपकी ऐसी बहुत सी आदतें होंगी जिनके कारण आपका काफी पैसा खर्च हो जाता है। जैसे महंगी सिगरेट पीना, 1st AC में सफर करना, हर हफ्ते मूवी देखने जाना, हर हफ्ते दोस्तों के साथ पार्टी मनाने जाना आदि। इन सभी आदतों को कम करें। क्योंकि यह आदतें ऐसी हैं कि इनके कम होने से आपका कोई भी नुक्सान नहीं होगा।

17. आमदनी का एक हिस्सा निवेश में लगाएं :

हर महीने अपनी आमदनी का एक हिस्सा investment में जरूर लगाएं। यहाँ यह जानने योग्य बात है कि Saving and Investment दोनों अलग अलग प्रकार के शब्द हैं।

अब आप बोलेंगे कि पैसे तो बचाने थे वो हमने बचा दिए और सेविंग अकाउंट में जमा कर दिया। लेकिन यहीं  गड़बड़ हो जाती है, saving account में आपको 5 प्रतिशत से भी कम ब्याज मिलता है। जबकि महंगाई दर प्रतिवर्ष बढ़ती जा रही है। जो इस ब्याज से भी अधिक है।

ऐसे में आपको चाहिए की अपना कुछ पैसा सेविंग अकाउंट में और थोड़ा भाग निवेश के दूसरे साधनों जैसे स्टॉक्स, म्यूच्यूअल फण्ड, बांड्स, रियल एस्टेट तथा गोल्ड आदि में इन्वेस्ट करें।

लेकिन ऐसा करने से पहले एक बार अपने financial adviser की सलाह अवश्य लें। आजकल ऐसे बहुत से धोखे ग्राहकों के साथ होते हैं जिनमे उनसे ऊंची ब्याज दर का वादा देकर पैसे जमा करवाए जाते हैं। और बाद में वे गायब हो जाते हैं। जिससे बेचारे निवेशकों का पूरा पैसा डूब जाता है। इसलिए इस क्षेत्र के expert लोगों से सलाह अवश्य लें।

18. टैक्स सेविंग की प्रॉपर प्लानिंग करें :

अधिकांश लोग अच्छा पैसा कमाते हैं लेकिन उनकी आमदनी का एक बड़ा भाग टैक्स के रूप में सरकार को चला जाता है। क्योंकि उनको पता ही नहीं होता कि ऐसे कौन से साधन हैं जिनसे टैक्स में छूट प्राप्त की जा सके।

यहाँ आपको टैक्स नहीं देने के लिए नहीं कहा जा रहा है। बल्कि आपको गवर्नमेंट को टैक्स अवश्य ही देना चाहिए। आपके टैक्स से ही देश का विकास संभव है।

सरकार ने कुछ ऐसे नियम बनाये हैं जो आपको टैक्स में छूट प्रदान करते हैं। कुछ ऐसे निवेश के साधन मौजूद हैं जिनमे निवेश करके आप टैक्स में छूट प्राप्त कर सकते हैं। जैसे लाइफ इन्शुरन्स, हेल्थ इंस्युरेन्स, बच्चों की ट्यूशन फीस, ELSS म्यूच्यूअल फण्ड, होम लोन आदि।

19. अपने पैसों से अपने लिए कार्य करवाएं:

आज निवेश के बहुत से साधन मौजूद हैं। यदि आपके पास पैसे हैं तो आप उन्हें `इन्वेस्ट कर सकते हैं और उनसे अपने लिए कार्य करवा सकते हैं।

जैसे यदि आप रियल एस्टेट में निवेश करते हो और एक मकान खरीदते हो तो आपको आपके मकान से हर महीने किराया आएगा। ऐसे में आपका निवेश भी सुरक्षित है और वह आपको हर महीने आमदनी भी देता है। इस प्रकार आपका पैसा आपके लिए और income generate करता है।

Money Saving Tips for Students Hindi

20. लम्बी अवधि के निवेश की रणनीति बनाएं:

निवेश के लिए हमेशा लम्बी अवधि (long term investment) को चुनें। लोग रातों रात अमीर होना चाहते हैं। इसलिए वे ऐसा मार्ग चुनते हैं जो उन्हें जल्दी अमीर बना सके। लेकिन ऐसा कोई भी मार्ग उपलब्ध नहीं है। जिस प्रकार एक बीज से रातों रात पेड़ नहीं बन सकता और उस पर फल नहीं लग सकते।

उसी प्रकार रातों रात आपके पैसे कई गुना नहीं हो सकते। जो आपको इस प्रकार का लालच देते हैं, उनसे दूर रहने की आवश्यकता है। हमेशा लम्बी अवधि का नजरिया रखें। यह महत्त्वपूर्ण नहीं है कि आप कितना निवेश करते हो। बल्कि महत्वपूर्ण यह है कि आप निरंतर कितने लम्बे समय तक उस निवेश में बने रहते हो।

21. अपने निवेश को किसी लक्ष्य के साथ जोड़ें :

जब भी कोई निवेश शुरू करें तो उसे किसी लक्ष्य के साथ जोड़ दें। जैसे यदि आप आज म्यूच्यूअल फण्ड में की SIP शुरू करते हैं तो इसे भविष्य की किसी बात से जोड़ दें जैसे बच्चे की पढाई, बच्चों की शादी तथा रिटायरमेंट आदि।

जब आप ऐसा करते हैं तो आप उसे निरंतर जारी रखते हैं क्योंकि आप जानते हैं कि मैं यह अपने बच्चों की पढाई के लिए, शादी के लिए या अपने रिटायरमेंट के लिए जमा कर रहा हूँ। इस प्रकार आप उसे कभी रुकने नहीं देंगे और यह आपकी एक आदत बन जायेगा।

ये Money Saving Tips in Hindi दिखने में भले ही छोटी लग रही हों लेकिन यदि आप इन बातों को अपनी जिंदगी में उतार देते हैं तो  यकीन मानिये आप अवश्य पैसे बचाने में कामयाब हो जायेंगे।

और यदि पैसे बचाने में कामयाब हो गये तो आप दौलतमंद बनने की दिशा में बढ़ जायेंगे।

दोस्तों, उम्मीद है कि Money Saving Tips in Hindi में आपको आपके सवालों के जवाब मिल गए होंगे।

आपको यह Money Saving Tips in Hindi कैसी लगी, हमें नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बताएं। धन्यवाद दोस्तों।

यह भी पढ़ें:

सफलता का रहस्य

विद्यार्थियों की अच्छी आदतें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *