हेनरी फोर्ड के प्रेरणादायक विचार

फोर्ड मोटर कंपनी के संस्थापक हेनरी फोर्ड के विचार पूरी दुनिया को ज्ञान का अनमोल प्रकाश प्रदान कर रहे हैं । उनके विचार जीवन को नई दिशा देते हैं। इस पोस्ट में हम उनके द्वारा कहे गए कुछ अनमोल एवं प्रेरणादायक विचारों को पढ़ेंगे। 

इलोन मस्क के प्रेरणादायक विचार

इलोन मस्क का जन्म 28 जून 1971 को हुआ। वह एक इंजीनियर, बिजनेसमैन, अविष्कारक और निवेशक हैं। उन्होंने स्पेस एक्स, टेस्ला, न्यूरालिंक और थे द बोरिंग आदि कंपनियों की स्थापना की। टेक्नोलॉजी की दुनिया में एलोन मस्क आज बहुत बड़ा नाम है।

सफलता के लिए प्रेरणादायक विचार

जिदंगी में सफल होने के लिए आवश्यक है हमारे अंदर प्रेरणा का होना। हम अपने लक्ष्य तक तभी पहुँच सकते हैं जब हम मेहनत के साथ-साथ अपने मन को मजबूत रखें।

माता-पिता पर अनमोल कथन

इस पोस्ट में आपको मिलेंगी माता-पिता पर कुछ बेहतरीन पंक्तियाँ, जो आपको आपके माता-पिता के प्रेम के अहसास को महसूस करने का कार्य करेंगी। यह पंक्तियाँ आपके मन में आपके माता-पिता के प्रति गहन श्रद्धा एवं सम्मान को बढ़ाएंगी।

प्रकृति पर अनमोल विचार

इस ब्रह्माण्ड में सिर्फ हमारी पृथ्वी ही एक स्थान है जहाँ मनुष्य जीवन है। इसका एक ही कारण है कि हमें प्रकृति के रूप में ईश्वर ने जीवन का वरदान दिया है। प्रकृति हमारा ध्यान एक माँ की तरह रखती है। जीवन जीने के लिए हमें सब कुछ प्रकृति से ही मिलता है।

शिक्षा पर महान व्यक्तियों के अनमोल विचार

हमारे जीवन में शिक्षा का स्थान बहुत ही महत्वपूर्ण है। किसी भी राष्ट्र की प्रगति उसके नागरिकों ऊपर ही निर्भर करती है। यदि उस राष्ट्र के नागरिकों को शिक्षित नहीं किया जाता है, तो उस राष्ट्र का विकास नहीं हो सकता। इस पोस्ट में आपको शिक्षा पर महान व्यक्तियों के द्वारा कहे गए अनमोल कथन मिलेंगे।

डिप्रेशन से लड़ने की शक्ति देते प्रेरणादायक विचार

 Depression Quotes in Hindi डिप्रेशन से लड़ने की शक्ति देते प्रेरणादायक विचार Depression Quotes in Hindi: दोस्तों आज की दौड़ भाग से भरी जिंदगी में […]

नेल्सन मंडेला के अनमोल विचार

नेल्सन मंडेला का जन्म 18 जुलाई 1918 को म्वेजो, ईस्टर्न केप, दक्षिण अफ्रीका संघ में हुआ था। उनके पिता का नाम गेडला हेनरी म्फ़ाकेनिस्वा तथा उनकी माता नाम नोसकेनी था। जब वह 12 वर्ष के थे तब उनके पिता की मृत्यु हो गयी। उन्होंने वकालत पूरी की और जोहान्सबर्ग में वकालत करने लगे। वहां उन्होंने रंगभेद के खिलाफ आवाज उठाई।

पर्यावण बचाओ पर नारे

इस पर्यावरण के कारण ही हमारी पृथ्वी हरी भरी खुशहाली से युक्त है। यह पेड़-पौधे ही हैं जिनके कारण हम सांस ले पा रहे हैं। यदि यह पेड़ पौधे ही नहीं होंगे तो हम सांस कैसे लेंगे? जरा कल्पना करके देखिये….यह हमारी नदियां, झीलें, समुद्र ही हैं जिनके कारण हम जीवित हैं। यदि हमें जल ही न पीने को न मिले तो सोचिये कि हम जीवित कैसे रहेंगे।